Latest News

मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत :-
कंप्यूटर, सिलाई, सॉफ्ट स्किल, राजमिस्त्री का प्रशिक्षण दिया जा रहा है

Contact

www.ycswo.com
Mobile- +91 9770 81 3809
Mobile- +91 975 28 06505
Email- info@ycswo.com

Downloads




वार्षिक प्रतिवेदन वर्ष 2011-12


image

साक्षरता कार्यक्रम (अप्रेल 2011)

ग्रामीणों को ‍शिक्षा के प्रति जागरूक करने हेतु साक्षरता कार्यक्रमों का आयोजन ग्राम - सेजबहार, कांदुल, भाठागांव एवं अन्य ग्रामों में किया गया जो ग्रामीण अंगूठा निशान लगाते थे उन्हें हस्ताक्षर करना सिखाया गया, तथा सायंकालीन साक्षरता कक्षाओं का आयोजन ग्राम पंचायतों की भवनों में किया गया जहां ग्रामवासीयों को इकट्ठा कर साक्षर बनाने का प्रयास संस्था द्वारा किया गया |


image

खेलकूद कार्यक्रम (मई 2011)

ग्रामीणों के स्वास्थ्य मनोरंजन हेतु विभिन्न खेलकूद जैसे - कुर्सी दौड़, खो-खो, फुगड़ी, दौड़ संबंधी खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया | जिसमें लगभग 50 प्रतिभागियों ने भाग लिया | संस्था द्वारा इनमें से तीन श्रेणी रखी गई थी जिसमें प्रत्येक श्रेणी में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार दिये गये | शेष प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र वितरित किये गये | यह आयोजन लगभग 7 दिनों तक जारी रहा | इस आयोजन में संस्था के 15 कार्यकर्ता व स्थानीय नागरिकों के साथ-साथ संस्था के पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थ्ति रहे |


image

महिला स्वास्थ्य संबंधी जानकारी (जून 2011)

महिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने हेतु स्वास्थ्य प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया जिसमें महिलाओं को स्त्री रोग संबंधी संक्रामक बीमारिओं से अवगत कराया गया तथा पाम्पलेट का वितरण कर उन्हें स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्रदान की गई | साथ ही ग्रामीणों को एड्स जैसे गंभीर बीमारियों से अवगत कराया गया तथा एड्स जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से लागों को एड्स से बचाव संबंधी जानकारी प्रदान की गई |


image

कृषक शिविर का आयोजन (जुलाई 2011)

संस्था द्वारा कृषि विभाग के संयुक्त तत्वाधान में कृषकों के समस्याओं के निदान तथा उन्नत कृषि पद्धति के विस्तार हेतु कृषक शिविर का आयोजन किया गया जिसमें किसानों किसानों ने हिस्सा लेकर कृषि के उन्नत पद्धति से अवगत हुए किसानों की समस्याओं को हल करने हेतु कृषि विभाग के युवा वैज्ञानिक उपस्थित थे | संस्था द्वारा प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें किसानों नें तनाछेदक व फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले किटों के साथ-साथ उन्नत नस्ल की पशुओं, संकर प्रजाति के पशुओं के साथ कुक्कुट पालन, बकरी पालन व अन्य पशुपालन व डेयरी संबंधी जानकारीयां प्राप्त की जिसका जवाब युवा वैज्ञानिकों नें सफलता पूर्वक दिया तथा उक्त जानकारी हासिल कर किसानों ने अपनाने हेतु संकल्प लिया |


image

नशामुक्ति कार्यक्रम (अगस्त 2011)

लोगों को नशामुक्ति जागरूक करने हेतु नशामुक्ति कार्यक्रम का आयोजन किया गया | उक्त कार्यक्रम में संस्था पदाधिकारी उपस्थित थे जिन्होने लोगो को नशा से होने वाले दुष्प्रभावों से अवगत कराया गया तथा नशा से होने वाले विभिन्न बिमारियों से अवगत कराया | संस्था अध्यक्ष द्वारा लोगो को उद्‌बोधन करते हुए कहा कि " आज वर्तमान परिवेश पूर्ण रूप से नशा में लिप्त है खासकर युवा वर्ग जो आज नशे के लिप्त में घिरा हुआ है, अत: वर्तमान परिवेश को नशामुक्त करना आज हर वर्ग कि जिम्मेदारी है |


image

महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम (सितम्बर 2011)

महिला सशक्तिकरण व उन्हें स्वरोजगार प्रदान करने के उद्देश्य से महिला सशक्तिकरण का कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें महिलाओं को स्वरोजगार संबंधी प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के साथ उनमें बचत की भावना जागृत किया गया | महिलाओं को पारम्परिक रोजगार अपनाने के साथ समूह गठन कर खेती, बागवानी व फलोत्पादन के माध्यम से स्वरोजगार प्राप्त कर आर्थिक सुदृढ़ता हेतु प्रेरित किया गया जिसमें महिलाओं ने सहभागिता प्रदान कर उक्त योजनाओं को अपनाने हेतु अपनी सहमती प्रदान की |


image

महिलाओं के स्वावलंबी बनाने हेतु महिला स्व सहायता समूह के गठन (अक्टूबर 2011)

संस्था द्वारा सामुदायिक नेतृत्व के बारे में ग्रामवासियों को अपने गांव में नेतृत्व करके विभिन्न समस्याओं और विकास के कार्य कर सकते है | नेतृत्वकर्ता अपने नेतृत्व में लोगो की समस्याओं को समझकर उसके निराकरण हेतु उचित प्रयास करता है | एक जुट होकर व एक साथ कार्य करने से कार्यो को गति मिलती है | इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए संस्था द्वारा नेतृत्व कार्यक्रम का आयोजन किया गया और ग्रामीणों को टीम भावना से अवगत कराते कराते हुए एक जुट होकर कार्य करने हेतु प्रेरित किया गया |


image

26 जनवरी कार्यक्रम (जनवरी 2012)

संस्था द्वारा 26 जनवरी स्वाधिनता दिवस के अवसर पर संस्था कार्यालय में ध्वजारोहण का कार्यक्रम का आयोजन किया गया उक्त कार्यक्रम में संस्था के पदाधिकारीयों द्वारा महापुरूषों के पतिमाओं पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजली अर्पित कि गई | कार्यक्रम में स्थानीय ग्रामिण भी सम्मिलित हुए जिन्हें स्वाधीनता दिवस के बारे में बताया गया तथा उन्हें स्वाधिनता निर्माता डां अम्बेडकर साहेब की जीवन परिचय से अवगत कराया गया |